जानिए कैसे balasaheb Thakeray को शाहरुख़ खान की बोलती बंद कराने के लिए देनी पड़ी थी धमकी |

Shahrukh Khan बॉलीवुड के बेताज बादशाह हैं आज वो जो भी हैं उनकी फिल्मों के कारण है और उनके फैन्स ने उन्हें यहाँ लाकर खड़ा किया है . शाहरुख़ खान जबसे सक्सेस हुए हैं वो अपने आप को एक ब्रांड बनाकर चलते हैं .

उसी ब्रांड को बनाये रखने के लिए वो कोई भी काम लेते हैं और कोई भी काम करते हैं और जब कोई इस ब्रांड शाहरुख़ खान से उलझता है तो फिर उन्हें गुस्सा आ जाता है .

वानखेड़े स्टेडियम में IPL के समय गार्ड से झगड़ा इसके बारे में तो सब जानते हैं लेकिन इससे पहले भी शाहरुख़ खान एक बार गार्ड के साथ उलझे हुए हैं . तो आज हम आपको बतायेंगे की कब शाहरुख़ खान गार्ड के साथ उलझे और क्यों उनको इतना गुस्सा आया और किसके कहने से उन्हें अपना गुस्सा ठंडा करना पड़ा.

Shahrukh khan fight

 

बात है 11 जनवरी 1997 की प्रोड्यूसर फ़िरोज़ नडियादवाला ने अपनी फिल्म रफ़्तार के महूरत के लिए मुंबई के ओबरॉय टावर में एक शानदार पार्टी ओर्गनाईस की और इसमें काफी VIP लोगो को बुलाया गया.

साथ ही बॉलीवुड के बड़े स्टार्स भी इनवाईटेड थे जिसमे थे , संजय दत्त, अक्षय कुमार , मनीषा कोइराला, जूही चावला और इस पार्टी में शिवसेना चीफ balasaheb Thakeray  भी शामिल थे .

शाहरुख खान को भी इस पार्टी में बुलाया गया था कहा जाता है की बॉलीवुड में इस तरह की शानदार पार्टी पहली बार हो रही थी और क्योंकि इस पार्टी में बहुत सारे VIP भी शामिल थे इसलिए वहा की सिक्योरिटी भी काफी ज्यादा थी .

firoz nadiadwala

शाहरुख़ खान जब वेन्यु में एंटर होने जा रहे थे तभी मेटल डिटेक्टिव ने उन्हें बीप किया उसके बाद सिक्योरिटी गार्ड्स ने शाहरुख़ खान को चेक किया तो पता चला की उनके पास एक लोडेड गन थी .

जब शाहरुख़ खान से इस गन के बारे में पुचा गया तो उन्होंने बताया की ये गन वो अपनी सिक्योरिटी के लिए कैरी कर रहे हैं क्योकि उन्हें उन दिनों काफी धमकियाँ मिल रही थी इसी लिए शाहरुख़ खान अपनी सेफ्टी के लिए वो गुण कैरी कर रहे थे .

बस वही से वो पंगा शुरू हो गया क्योंकि गार्ड्स ने उन्हें वो गन अन्दर ले जाने से रोक दिया साथ ही गार्ड्स ने उनसे उस गन का लाइसेंस दिखाने  को कहा तब शाहरुख़ खान का दिमाग सनक गया क्योंकि वो ब्रांड द शाहरुख़ खान थे .

इसीलिए तो उनसे एक गार्ड कैसे लाइसेंस मांग सकता है इसी बात पर शाहरुख़ को गुस्सा आ गया, शाहरुख़ खान ने गार्ड्स को अपनी पावर’ दिखाते हुए कहा की “तुम्हे पता है मैं कौन हूँ , मैं शाहरुख़ खान हूँ” तो गार्ड ने भी सामने से जवाब देते हुए कहा ” तो क्या शाहरुख़ खान है लेकिन आपको ये तो बताना ही पड़ेगा की आप गन क्यों लेकर घूम रहे हैं “

firoz nadiadwala 1997 party

 

इसके बाद शाहरुख़ खान का गुस्सा और ज्यादा तेज़ हो गया और वही पर  सीन क्रिएट होने लगा , शाहरुख़ ने डिमांड राखी की इस पार्टी के जो होस्ट है फ़िरोज़ नडियादवाला वो आये और इस सीन से निकाले वही फ़िरोज़ नडियादवाला अपने गेस्ट के साथ बिजी थे .

एक घंटे तक यह सब चलता रहा तब तक शाहरुख़ खान गार्ड से उलझते रहे और फ़िरोज़ नडियादवाला उन्हें रिसीव करने नहीं आये और बस फिर शाहरुख़ खान का गुस्सा सातवें आसमान पर चढ़ गया .

वो फ़िरोज़ नडियादवाला को भी बुरा बोलने लगे उन्होंने यहाँ तक कह दिया की फ़िरोज़ नडियादवाला खुद को समझता क्या है आखिर वो फिल्म तो एक आरोपी और एक वेटर को लेकर ही बना रहा है .

Akshay Kumar and Sanjay Dutt

 

आरोपी यानी संजय दत्त (sanjay dutt)  और वेटर यानी अक्षय कुमार ( Akshay Kumar ) , जब उन दोनों को ये बात पता चली तो उन्हें बहुत बुरा लगा, बाहर के सीन के बारे में फाइनली अंदर पता चला और ये बात जब बालासाहेब ठाकरे  balasaheb Thakeray  को पता चली तो उन्होंने शाहरुख़ को एक मैसेज भिजवाया.

उन्होंने शाहरुख़ खान के कहलवाया की “शाहरुख़ को कहो की वो अपना मैटर जल्द से जल्द निपटाए अपने डोक्युमेंट और अपने लाइसेंस गार्ड को दिखाए नहीं तो मैं खुद देखूंगा की  शाहरुख़ खान की फिल्मे थिएटर में कैसे रिलीज़ होती हैं “

ठाकरे की इस धमकी के बाद शाहरुख़ का गुस्सा तो ठंडा होना ही था, शाहरुख़ का दिमाग ठिकाने आया उन्हें अपनी गलती समझ आई ना सिर्फ उन्होंने सिक्योरिटी गार्ड को सॉरी कहा बल्कि 26 माले से नीचे  जाके लाइसेंस लाये और दिखाया. और इसके बाद शाहरुख़ खान पार्टी के अन्दर गये जहा पर वो चुप चाप ही रहे .

Leave a Reply

Your email address will not be published.